Saturday, September 25, 2021
Banda

बांदा-पति संग परदेश से लौटी युवती ने फांसी लगाकर जान दी

[responsivevoice_button voice="Hindi Female]

पति संग परदेश से लौटी युवती ने फांसी लगाकर जान दी
– नगर कोतवाली क्षेत्र के मवई बुजुर्ग गांव में हुई घटना
बांदा। पति के साथ परदेश से वापस घर आई युवती ने झगड़े के बाद ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतका ने छह साल पूर्व पहले पति की मौत के बाद कोर्ट मैरिज की थी। मृतका के पिता ने पति पर गला घोंटकर मार डालने का आरोप लगाया है।
शहर कोतवाली क्षेत्र के मवई बुजुर्ग गांव निवासी गीता (35) पत्नी वरुण सिंह ने रविवार की रात ससुराल में दीवार पर लगे एंगिल में दुपट्टे का फंदा बनाकर फांसी पर झूल गई। कुछ देर बाद वापस घर लौटे पति ने उसका शव फंदे पर लटकते देखा। खबर पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भरने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के ससुर विजय पाल ने बताया कि गीता पति के साथ सूरत में रहती थी। वह रेडीमेड कपड़े की फैक्ट्री में सिलाई का काम करती थी। जबकि पति सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता है। छह साल पूर्व पहले पति की कैंसर से मौत होने के बाद गीता ने वरुण से कोर्ट मैरिज की थी। बताया कि रविवार को सुबह वरुण और गीता साथ में सूरत से गांव लौटे थे। किसी बात को लेकर दोनों के बीच रास्ते और घर पर विवाद हुआ। विवाद के बाद वरुण घर से बाहर निकल गया और गीता ने फांसी लगाकर जान दे दी। उधर, इसी गांव के रहने वाले मृतका के पिता संतोष कुमार ने बताया कि पति उसके चरित्र पर शक करता था। इसी केचलते गला घोंटकर मार डाला और आत्महत्या का रूप देने के लिए शव को फंदे पर लटका दिया। कोतवाली इंस्पेक्टर जयश्याम शुक्ल ने बताया कि प्रथम दृष्टया युवती ने पति से विवाद के बाद खुदकुशी की है। मृतका के पिता द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच की जा रही है।

घायल संविदा रोडवेज चालक ने दम तोड़ा
बांदा। चार दिनों पहले अज्ञात वाहन की टक्कर से घायल संविदा रोडवेज चालक ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मौत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
चिल्ला थाना क्षेत्र के बिछवाही गांव निवासी शिवनारायण (32) पुत्र रामस्वरूप चार दिनों पहले बाइक पर ड्यूटी करने जिला मुख्यालय आ रहा था। इसी थाना क्षेत्र के अतरहट गांव के नजदीक अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दी। वह गंभीर रूप से घायल हो गया। जिला अस्पताल से गंभीर हालत में उसे कानपुर रेफर कर दिया गया। रविवार की रात कानपुर के एक अस्पताल में उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। परिजन शव लेकर वापस आ गए। मृतक के भतीजे दीपक ने बताया कि शिवनारायण रोडवेज में संविदा चालक पद पर तैनात था। मृतक अपने पीछे पत्नी समेत तीन पुत्र व एक पुत्र छोड़ गया है।

Leave a Reply