सात नामजद सपाइयों में चार गिरफ्तार, तीन पुलिस पकड़ से बाहर
– ईवीएम सुरक्षा को लेकर सपाइयों ने रोकी थी अधिकारियों की गाड़ियां
– तकरार के बाद पुलिस ने सपाइयों को लाठी पटककर खदेड़ा था
बांदा। मतगणना से ठीक पहले कुछ शहरों में अधिकारियों की गाड़ियों में ईवीएम मशीनें मिली थीं। इसको लेकर समाजवादी पार्टी ने सूबे में सपाइयों को एलर्ट करते हुए कहा था कि ईवीएम की सुरक्षा में खुद डट जाएं, ताकि ईवीएम मशीनों को बदला न जा सके। इस पर सपाई मण्डी समिति पहुंच गए थे और वहां पर ईवीएम की निगरानी कर रहे थे। इसी दौरान मण्डी समिति आने-जाने वाले अधिकारियों की गाड़ियों को रोककर सपाइयों ने चेक किया था। इस बात पर सपाइयों और अधिकारियों के बीच तकरार हो गई थी। इस मामले पर सात नामजद सपाइयों समेत 40 अज्ञात के खिलाफ रपट दर्ज की गई थी। बुधवार को पुलिस ने चार नामजद सपाइयों को गिरफ्तार कर लिया। तीन आरोपियों की तलाश जारी है।
ईवीएम की सुरक्षा को लेकर डटे सपाइयों ने मतगणना के एक दिन पूर्व 9 मार्च को मण्डी समिति में ईवीएम की सुरक्षा को लेकर डट गए थे। मण्डी आने-जाने वाले पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की गाड़ी को रोककर सपाइयों ने चेक किया था। इस मामले को लेकर अधिकारियों से सपाइयों की नोकझोंक हुई थी। बाद में पुलिस ने लाठी पटककर सपाइयों को खदेड़ दिया था। इस मामले पर कोतवाली में पूर्व जिलाध्यक्ष इमरान अली राजू समेत 7 लोगों को नामजद किया गया था और 40 अज्ञात लोगों के खिलाफ रपट दर्ज की गई थी। इस मामले पर पुलिस ने बुधवार को रवि गुप्ता, मुश्ताक, अंकुर यादव, मिनहाज अली को गिरफ्तार कर लिय। नगर कोतवाली प्रभारी राजेंद्र सिंह राजावत ने बताया कि गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिशें दी जा रही हैं। शेष आरोपियों को जल्द ही पकड़ा जाएगा।

By Ravindra Mahan

Sub Editor UP TAAZA NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published.